जमाअत इस्लामी हिन्द सपा गठबंधन को दे सकती है अपना समर्थन

जआअत

जमाअत इस्लामी हिन्द सपा गठबंधन को दे सकती है अपना समर्थन

जआअतन्यूज़ डेस्क-उत्तर प्रदेश में चुनाव का बिगुल बज चूका है। सभी पार्टी ने अपने लगभग प्रत्यासी का ऐलान भी कर दिया है। सभी प्रत्यासी जहाँ से वो चुनाव लड़ने वाले है वहां प्रचार प्रसार शुरू कर दिया है। इस बार उत्तर प्रदेश के चुनाव में कई सीट पर एआईएमआईएम पार्टी ने भी प्रत्यासी उतरने का ऐलान कर दिया है। इनके ऐलान के बाद ही उत्तर प्रदेश में मुस्लिम वोटरों को अपनी तरफ लुभाने की कोशश जारी है। इसी बिच ओखला के शाहिनबाग में जमाअत इस्लामी हिन्द ने शनिवार को प्रेस वार्ता की। जिसमें जमाअत इस्लामी हिन्द की तरफ से कहा गया की संस्था ”उत्तर प्रदेश चुनाव मेँ किस पार्टी को समर्थन करेगी। अभी इसका फैसला नही किया हैँ लेकिन बातों ही बातों में सपा गठबंधन की तरफ अपना झुकाव भी दिखा दिया। इस प्रेस वार्ता में जमाअत इस्लामी हिन्द के के अध्यक्ष मौलाना सैयद जलालुद्दीन उमर और जेनरल सेक्रेटरी मोहम्मद सलिम इंजिनियर मौजूद थे।

प्रेस कांफ्रेंस में जमाअत इस्लामी हिन्द के अध्यक्ष मौलाना सैयद जलालुद्दीन उमर ने कहा कि उत्तर प्रदेश में हर हाल में संघ को रोकना हैँ।किस पार्टी को हमारा समर्थन होगा वो अभी साफ़ नहीं हो पाया है लेकिन एक सवाल का जबाब देते हुए उन्होंने अपना झुकाव सपा गठबंधन की तरफ दिखा दिया।

प्रेस वार्ता में आगे बोलते हुए मौलाना सैयद जलालुद्दीन उमर ने कहा कि जमाअत संघ को रोकने के लिए हर मुमकिन कोशिश करेगी।संघ को रोकने के लिए चाहे जिस पार्टी का भी प्रत्यासी जीत रहा हो उसका समर्थन हम करेंगे।
पूछे गए सवाल कि 2012 मेँ जिस जिस लोगोँ का समर्थन जमाअत इस्लामी हिन्द ने किया था। वो मुसलमानो के हित मेँ कितना खडा रहा। इस सवाल के जवाब मेँ अध्यक्ष ने कहा कि अभी उसकी गणना नही की गई हैँ। 2012 मेँ जिसे जमात ने समर्थन दिया था. अगर वो हमारे साथ इन पांच साल मेँ खडा नही हुआ तो उस पर विचार किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here