एक ही लोकसभा से मुख्यमंत्री समेत चार मंत्री लेकिन फिर भी नहीं जीता पाए सीट

एक ही लोकसभा से मुख्यमंत्री समेत चार मंत्री लेकिन फिर भी नहीं जीता पाए सीट

न्यूज़ डेस्क-23 मई को लोकसभा चुनाव का परिणाम आ गया। इस परिणाम के आते ही बीजेपी में ख़ुशी की लहर है वहीँ कांग्रेसी हार के कारणों को तलाशने में लगी है। 2019 के चुनाव परिणाम में तो सबसे ज्यादा कांग्रेस पार्टी का सूपड़ा साफ़ हो गया है।15 से ज्यादा राज्यों में तो इनका खाता भी नहीं खुल पाया है। वहीँ देखा जाए तो पिछले साल के आखिर में राजस्थान,मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के विधानसभा चुनाव में जीत हासिल करने के बाद भी लोकसभा चुनाव में उसी माहौल को कांग्रेस कायम नहीं रख पाई।

खासकर बात करे छत्तीसगढ़ की तो यहाँ 11 सीट में कांग्रेस दो पर ही जीत पाई बाकी पर बीजेपी ने ही अपना परचम लहराया। खासकर अगर दुर्ग लोकसभा की बात करे तो यहाँ से बीजेपी ने जीत हासिल की लेकिन ये सीट खास इसलिए है क्योंकि छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री समेत चार मंत्री दुर्ग लोकसभा से ही ताल्लुक रखते है।

दुर्ग से बीजेपी ने विजय बघेल को मैदान में उतरा था वहीँ कांग्रेस ने प्रतिमा चंद्राकर को मौका दिया था। विजय बघेल ने कांग्रेस उम्मीदवार को 391978 वोटों से हरा दिया।

गौरतलब हो दुर्ग लोकसभा के अंतर्गत 9 विधानसभा आते है जिसमें पाटन विधान सभा से छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल खुद है,वहीँ दुर्ग ग्रामीण से सरकार में PWD मंत्री  ताम्रध्वज साहू,साजा से सरकार में कानून मंत्री रविन्द्र चौबे व गाँव औद्योगीकरण मंत्री गुरु रूद्र कुमार अहिवारा से आते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here