कैट्स एम्बुलेंस का खस्ता हाल,कर्मचारी परेशान

ambulance

कैट्स एम्बुलेंस का खस्ता हाल,कर्मचारी परेशान

ambulanceन्यूज़ डेस्क -दिल्ली में किसी भी आपातकालीन समस्या से निपटने के लिए और घायल को हॉस्पिटल पहुंचाने के लिए तैयार रहने वाली कैट्स एम्बुलेंस की हालत ख़राब है। एम्बुलेंस के सीट में लगे कवर फटे है,कई एम्बुलेंस में आग बुझाने के लिए उपकरण भी मौजूद नहीं है। वहीं कई एम्बुलेंस ऐसी भी है जिसमें स्टेफनी लगाने वाला लॉक भी टुटा हुआ है। जिसकी वजह से अगर कभी टायर पंचर होती है तो मरीज़ को सड़क पर उतार कर दूसरा टायर लगाना पड़ेगा। इन सब की जानकारी दिल्ली सरकार को भी है लेकिन सरकार शायद किसी बड़े हादसे का इंतज़ार कर रही है।
गौरतलब है की कैट्स एम्बुलेंस का परिचालन BVG कंपनी द्वारा किया जाता है।
कैट्स एम्बुलेंस के कर्मचारी जसवंत लाकड़ा ने कहा की ज्यादातर एम्बुलेंस में प्राथमिक उपचार का कोई सामान मौजूद नहीं है और जिसमें मौजूद है उसमें तो उसे रखने के लिए कोई जगह नहीं है। उसका बक्सा भी टुटा हुआ है। सोमवार को कई एम्बुलेंस को बुराड़ी अथॉरिटी ले जाया गया। जिसमें से कई एम्बुलेंस के फ़र्ज़ी प्रदूषण सर्टिफिकेट बनाए गए। आगे के पहिये पर मूड फ्लैप भी नहीं है जिसके बिना एम्बुलेंस पास हो ही नहीं सकता लेकिन उसके बाद भी कंपनी द्वारा एम्बुलेंस को अथॉरिटी ले जाया गया।
आगे उन्होंने कहा की एम्बुलेंस की तो ये हालत है की उसके नंबर प्लेट भी टूटे हुए है।नंबर प्लेट को कर्मचारी द्वारा किसी तरह चिपका कर चलाया जा रहा है।कई एम्बुलेंस में आग बुझाने के लिए उपकरण भी मौजूद नहीं है।
लाकड़ा कहते है की ऐसा नहीं है ‘’कैट्स के इस हालात के बारे में दिल्ली सरकार को या परिचालन करने वाली संस्था को पता है लेकिन फिर भी कैट्स एम्बुलेंस की हालात सुधारने के लिए कोई भी आगे आने को तैयार नहीं है।दिल्ली सरकार को जब भी कैट्स के बारे में शिकायत की जाती है उनकी तरफ से सिर्फ आश्वासन ही मिलता है’’।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here