टेबल सॉकर में दिल्ली के खिलाड़ियों ने लहराया परचम

table soccer game

टेबल सॉकर में दिल्ली के खिलाड़ियों ने लहराया परचम

table soccer gameन्यूज़ डेस्क-दिल्ली के छत्रशाल स्टेडियम में 3 जनवरी से चल रहे 63वें स्कूल राष्ट्रीय खेल 2017-2018 का 9 जनवरी 2018 को आखरी दिन था। इस टूर्नामेंट में कई खेलों को शामिल किया गया था और लगभग पुरे हिन्दुस्तान के खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया था। इस टूर्नामेंट में टेबल सॉकर को भी शामिल किया गया था। टेबल सॉकर को पिछले पांच सालों से शामिल किया जा रहा है। पिछले पांच सालों में लगातार तीन सालों से गोल्ड मेडल पर दिल्ली वालों का कब्ज़ा बरक़रार है।

पिछले साल की तरह इस साल भी दिल्ली की खिलाड़ियों अन्य राज्य की खिलाड़ियों को धूल चटाया है। दिल्ली के खिलाड़ियों ने सिंगल और डबल दोनों में गोल्ड अपने पास ही बरक़रार रखा है। गोल्ड जीतने वाले खिलाड़ियों में अंडर 19 (लड़का) लक्ष्य, यश, मिशान्त, मनप्रीत, नवदीप, युवराज वही अंडर 17 (लड़का)-उत्सव सैनी,आशीष,अमन,हर्षित,राहुल और हर्ष ने बाज़ी मारी। वहीं अंडर-19 (लड़की) शीन भयाना,दिव्या,गुरलीन सैनी,चाहत,पलक,तेनज़िंग वहीं अंडर 17 (लड़की) में स्वाती,पलक,भव्य,दृष्टि,शगुन,शीतल ने गोल्ड पर कब्ज़ा जमाया।

इस मौके पर आशा अग्रवाल (डिप्टी डायरेक्टर,शिक्षा खेल विभाग ),मनोज सैनी और अन्य कोच भी मौजूद थे।गोल्ड जीतने वाले बच्चों को आशा अग्रवाल ने आशीर्वाद दिया और कहा की बच्चों को खेल की तरफ आना चाहिए।

वहीं टेबल सॉकर से जुड़े मनोज सैनी ने कहा की टेबल सॉकर इंडिया में एक नया खेल है और आने वाले समय में इसकी तरफ बच्चौं का रुझान बढ़ेगा। इस खेल की खासियत ये है कि ये एक इनडोर गेम है और इसे आसानी से खेला जा सकता है। इस खेल में खलाड़ी को घायल होने का बिल्कुल भी डर नहीं होता। आगे उन्होंने कहा कि सरकार को इस खेल को आगे लाने के लिए काम करना चाहिए। इस खेल को हिन्दुस्तान में आए कुछ साल ही हुए है लेकिन फिर भी देश भर में दिल्ली के खिलाड़ियों ने अपना लोहा मनवाया हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here